संदेश

जुलाई 31, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

फिर दोस्ती प्यार से जीत गई -Heart touching Friendship love story in hindi

चित्र
Two best friends image फिर दोस्ती प्यार से जीत गई  Heart touching Friendship love story in hindi 💔😍 नमस्कार दोस्तों, मै हूँ आपका होस्ट आर्यन और आज में सुनाने जा रहा हूँ  सच्ची दोस्ती पर कहानी ( Heart Touching Story in Hindi ) की शेयर की हैं। इन  friendship story in hindi  में आपको जीवन में एक दोस्त की क्या कीमत होती है बहुत अच्छे से पता चल पायेगा। एक बार एक लड़का था. एक दिन अचानक उस लड़के की तबियत ज्यादा खराब हो गई. उसे लगा की उसका अंत समय नजदीक आ गया है। One of the best love story in hindi  -READ उस लड़के ने सोचा की मरने से पहले अपनी माशूका को सूचित कर दूं इसलिए उसने अपनी प्रेमिका को मरने से 5 मिनट पहले मेसेज किया। उस मेसेज में लिखा था - मैं जा रहा हूँ जल्दी जवाब दो. उसकी प्रेमिका ने मेसेज पढ़ा और वापिस मेसेज भेजा। जिसमे लिखा था - तुम कहाँ जा रहे हो? अच्छा ऐसा करो जहाँ भी जा रहे हो जाओ. अभी मैं व्यस्त हूँ बाद में बात करते है। यह मेसेज पढ़कर वह बहुत दुखी हुआ और फिर उसने दूसरा मेसेज अपने दोस्त को भेजा। Laila majnu love story  -READ उस मेसेज में भी वही शब्द लिखे थे - मैं जा रहा हूँ

प्यार में हैं सजा भी- Romentic couple love story in hindi

चित्र
Sweet couple image प्यार में  हैं सजा भी- Romentic couple love story in hindi आपने कितनी सारी लव स्टोरी सुनी होगी और पढ़ा होगा आपने लेकिन में जो लव स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ वो औरो से बेहद खास और दिलचस्प हैं 💔😔 ये स्टोरी आपका दिल जीत लेगी। हेलो दोस्तों में हूँ आपका होस्ट आर्यन और में आज लेकर आ गया हूँ बेहद ही इंटरेस्टिंग और दिल को छू जाने वाली लव स्टोरी एंड believe में इस से पहले आप ऐसी लव स्टोरी न तो सुनी होगी न तो पढ़ी होगी। Tumse dur jane ka gum hmesa aayega hme  - READ प्यार में है सज़ा भी मैं संतोष हूं। मेरी शादी मनोज के साथ हुई। हमारी शादी को 20 साल हो गए हैं। हमारी प्रेम कहनी बहुत मुश्किल दौर से गुज़री है। पर आज हम दोनों एक दूसरे के साथ बहुत खुश हैं। हमारी कहानी कुछ इस तरह है... मेरी मनोज से पहली मुलाक़ात अपनी दीदी के देवर की शादी में हुई। यहीं से हम दोनों मे दोस्ती हो गई। मनोज मेरे जीजा जी के दोस्त होने के कारण हमारे घर भी आने लगे और हम दोनों कब करीब आ गए पता ही नहीं चला। न जाने कब यह दोस्ती प्यार में बदल गई। इसका एहसास तब हुआ जब मेरे पापा ने मेरे रिश्ते की बात मुझसे पूछी।