संदेश

फ़रवरी 21, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

वैलेंटाइन डे की कहानी, कब है, क्यों मनाया जाता है, मतलब क्या होता है(Valentine’s Day Date, Story, Kab Hai aur itihas Hindi)

चित्र
हेलो दोस्तों मैं हूं आपका दोस्त आर्यन मैं एक राइटर हूं जैसा कि आप सभी जानते हैं औऱ आज मैं बताने वाला हूँ कि Valentine day itna special क्यों हैं औऱ इसकी शुरुआत कब से शुरू हुआ ,औऱ साथ में जानेंगे कि  वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है, valentine का मतलब क्या होता है, सब कुछ इस पोस्ट के ज़रिए हम पढ़ेंगे...........😍❣️😘 दुनिया का हर बंधन प्यार से बना होता है, अगर प्यार न हो, तो जिन्दगी में खुशियाँ नहीं हो सकती, वैसे प्यार का इज़हार कभी वक्त या मुहूर्त देखकर नहीं किया जाता, प्यार बिन बोले ही बयाँ हो जाता है, प्यार अहसास का एक ऐसा समुंदर है, जिसमे अगर तूफ़ान भी आये, तो किसी को नुकसान नहीं पहुंचाता. प्यार त्याग, विश्वास की एक ऐसी डोर है, जिसे बस महसूस कर सकते है, जिसे शब्दों में पिरोना आसान नहीं.   ऐसे ही प्यारे अहसास को जब एक त्यौहार (Valentine’s Day) के रूप में मनाया जाता है, तब वह दिन एक यादगार दिन बन जाता है दीवाली ,  राखी ,  क्रिसमस ,  होली  जैसे सारे त्यौहार जब भी मनाये जाते है, उनसे अपनों के बीच प्यार और भी गहरा हो जाता है, प्यार को वैसे किसी विशेष दिन की जरुरत नहीं , ऐसे ही प्यार से भरा

दिल को छू जाने वाली बाप-बेटे की कहानी-heart touching story of father and son

चित्र
Father and son ❤️ हम सभी को एक बार अपने माता-पिता के बारे में जरूर सोचना चाहिए। उनका आदर करना चाहिए , उनके आदर्शो का पालन करना चाहिए। जैसा कि एक वही हैं जिन्होंने आपके लिए अपना जीवन बलिदान किया है। एक हमारे माँ-बाप ही ऐसे हैं जो बिना किसी की स्वार्थ के सब कुछ करते हैं, ऐसे ही आपको पिता पुत्र प्रेरणादायक कहानी सुनाने जा रहा हूँ। दिल को छू जाने वाली बाप-बेटे की कहानी एक बार एक गाँव में वरुण नाम का एक छोटा लड़का रहता था। 10 साल की होने पर वरुण ने अपनी मां को खो दिया। अपनी माँ के मरने के बाद, वह अपने पिता के साथ ही रहता था। और वरुण उनकी देखभाल करता था क्योंकि वह बहुत बूढ़े थे। वरुण के पिता ने अपने बेटे वरुण की ज़रूरत को पूरा करने के लिए खेत में हर दिन बहुत मेहनत करते थे। वह अपने बेटे से बहुत प्यार करते थे। और वरुण के पिता की कड़ी मेहनत के कारण, सौभाग्य से वरुण को उच्च अध्ययन के लिए अवसर मिला। जैसा कि वरुण एक बुद्धिमान लड़का था, उसने बहुत अच्छी तरह से अध्ययन किया और टाउन की सबसे अच्छी बहुराष्ट्रीय कंपनियों में उसे काम करने का मौका मिला। Teri-Meri-Kahani  👥- love story बीमारी के कारण अपने

तेरी-मेरी कहानी-Teri Meri Kahani

चित्र
प्यार दुनिया का वो तोफा हैं जिससे जिंदगी हसीन हो जाती हैं , प्यार होने के बाद एक अलग ही फ़ीलिंग आती हैं। उस वक़्त हम सब कुछ भूल कर बस उस इंसान के बारे में ही सोचते रहते हैं। ऐसी ही एक दिल को छू जाने वाली लव स्टोरी आपको सुनाने जा रहा हू मैं :- तेरी-मेरी कहानी- यह कहानी हैं हैरिश और सोना की जो दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं , एक दिन हैरिश पूरी रात वह जाग रह गया। वह उन सभी चीजों के बारे में सोच रहा था जो पिछले कुछ दिनों में उसके साथ हुई हैं। उसकी प्रेमिका ने हैरिश के लिए एक संदेश छोड़ा था, जिसमें लिखा हुआ था, " मुझे माफ़ करना हैरिश , अब हलोग के बीच जो भी रिश्ता था वो खत्म हो चुका है"। हैरिश को समझ नहीं आ रहा था कि कैसे प्रतिक्रिया करनी है, अचानक ये सब पढ़ कर वो बोखला जाता हैं क्योंकि वे 3 साल से एक साथ थे। हैरिश को लगा कि उसने कुछ गलत किया है। इसीलिए सोना आज उसके साथ नहीं हैं। उसके दिमाग मैं नकारात्मक विचार उत्पन हो जा रहे थे , वो परेशान होगा फिर उसने उन्होंने टहलने का फैसला किया। वह पार्क में घूम रहा था और वह अपने साथ हुए चीजों के बारे में सोच रहा था जो वह अपने जीवन में

बाप-बेटे की दर्द भरी कहानी-painful story of father and son

चित्र
बाप-बेटे की दर्द भरी कहानी मैं हु आपका दोस्त आर्यन और मैं आपको सुनाने जा रहा हु एक बाप बेटे की सच्ची कहानी , जिसे पढ़ कर भावुक हो जाओगे। यह एक सच्ची कहानी है , हमारे मकान मालिक के बारे में, वह लगभग 70 साल के है और वह हमारे गाँव के सबसे अमीर और काफ़ी अच्छे स्वभाव आदमी है। जब मैं 12 वीं कक्षा में था, तब गर्मी की छुट्टी चल रही थी और मैं अपने summer vaccation में गाँव आया हुआ था मैं हमारा गाँव वहाँ से 60-70 किमी दूर था और मैं राँची विश्विद्यालय में अध्ययन कर रहा था। एक दिन बाहर बैठ कर मैं पढ़ रहा था तभी वह मेरे पास आए, तो मैं उस वक़्त पढ़ने में व्यस्त था ... ...  … study  अंकल: बेटा अरुण कइसे हो (बेटा तुम कैसे हो?) मैं: अच्छा हु दादा जी (मैंने उन्हें दादा कहा)। (मैं ठीक हूँ दादाजी) मैं: आप बताओ अंकल ?? (आप कैसे हैं ??) अंकल: मुस्कुराते हुए कहा-“ मैं ठीक हूँ बेटा,मेरा एक काम करोगे?? क्या तुम मुझ पर एहसान कर सकते हो?” मैं-क्या?? अंकल-“क्या तुम मेरे लिए फेसबुक पर आईडी बना सकते हैं??” मैं-पहले तो थोड़ा हमें अचंभा हुआ फिर बाद मैं मैंने उसने से हिचकिचाते हुए कहा , Fb पर Id बनाने के बाद आप क्